क्या उर्मिला के फैसले पर कांग्रेस और हिव्सेना के बीच मतभेद….🤔

दोस्तों आप लोगों ने उर्मिला मातोंडकर का नाम तो सुना ही होगा या फिर उनकी हिट फिल्म ‘ खूबसूरत ‘ , ‘जुदाई ‘, ‘ मैंने गाँधी को नहीं मारा ‘, ‘ नरसिंह ‘ और ‘ जंगल ‘ में से कोई मूवी देखा होगा |

वही बॉलीवुड एक्ट्रेस ”उर्मिला मातोंडकर ” जी ने मार्च 2019 में इंडियन नेशनल कांग्रेस को ज्वाइन कर लिया | और 2019 में लोकसभा का चुनाव हारने के बाद सितम्बर 2019 में कांग्रेस का साथ छोड़ दिया | इसके बाद अब दिसम्बर 2020 में महारष्ट्र के वर्तमान सरकार ” उद्धव ठाकरे ” की उपस्थिति में उन्होंने शिवसेना ज्वाइन कर लिया |

दोस्तों अगेर youtube पर आप थोडा सा रिसर्च करेंगे टो पायेंगे की चुनाव के समय उर्मिला जी ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करते समय कहा था कि ” ना मैं यहाँ चुनाव के चलते मैंने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की है और ना मैं चुनाव के ख़त्म होने के बाद पार्टी से दूर जाने वाली हूँ | मैं यहाँ इसलिए कड़ी हूँ क्यूंकि मुझे कांग्रेस के आइडियोलॉजी पर पूरा भरोसा है | ”

कहीं उर्मिला मातोंडकर अपनी कहीं हुयी बातें तो नहीं भूलीं | कहीं वे कांग्रेस को दिया हुआ वादा तो नहीं तोड़ रहीं |

अगर नहीं , तो आईये जानने का कोशिश करते हैं कि

” ऐसा कौन सा कारण था जिसने उर्मिला को कांग्रेस छोड़कर शिवसेना ज्वाइन करने पर मजबूर कर दिया ? ”

ANI  का ट्विटर पर ट्विट :

 

दोस्तों आजकल ट्विटर पर चले रहे कुछ लगातार विवाद में कंगना ने PoK यानी कि ‘ पाक अधिकृत कश्मीर’ की तुलना ‘ मुंबई ‘ से कर दी थी | इस स्थिति में जब कांग्रेस और एनसीपी चुप्पी साधे हुए थे , जबकि इस बात पर बॉलीवुड की ही मशहूर अभिनेत्री और पूर्व कांग्रेस सदस्य रह चुकी उर्मिला मातोंडकर ने कंगना की जमकर आलोचना की |

इसीसे प्रभावित होकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ‘ दुद्दव ठाकरे ‘ ने उर्मिला के सामने शिवसेना ज्वाइन करने का प्रस्ताव रखा | और इसलिए उर्मिला ने उद्धव ठाकरे के इस प्रस्ताव का सम्मान करते हुए मंगलवार , 1 दिसम्बर 2020 को शिवसेना ज्वाइन कर लिया |

इस पर कांग्रेस का कोई रिएक्शन नहीं ?

इस मामले के वजह से कांग्रेस भर में चर्चा थी की उर्मिला को फिर से कांग्रेस नेता नामित की जाए , लेकिन मुंबई के कांग्रेस नेता से मतभेद के चलते , उर्मिला ने इसमें कोई रूचि नहीं दिखाई | और शिवसेना के इस प्रस्ताव पर कांग्रेस ने भी कोई आपत्ति नहीं दिखाई | इसके बचाव में शिवसेना ने भी कह दिया कि उर्मिला कांग्रेस से इस्थिपा दे चुकी है |